उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने समूहिक सभा पर लगाई 30th जून तक रोक

Twitter के हवाले से :

देखो हमारी बातों का बुरा मत मानना क्योंकि हम किसी से दरमाहा नहीं लेते हैं।

टिप्पणी : उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की तरफ से यह सही निर्णय है। अभी कोरोना महामारी की जैसी हालिया स्थिति है, इसे मैं एक अच्छा निर्णय मानूँगा। क्योंकि 30 जून तक सार्वजनिक सभा ना भी हो तो कुछ लोगों को छोड़ कर बाकी सब का इससे ज्यादा कोई नुकसान नहीं होगा। उत्तर प्रदेश आबादी के मामले में देश का सबसे बड़ा राज्य में से एक माना जाता है। और इस कोरोना की स्थिति देखते हुए वहाँ पर काफी नियंत्रण बना हुआ है। और जैसा हमारे विशेषज्ञ कह रहे है की इस महामारी का असर 1 से 2 साल तक रहेगा। अभी तक इसका सही उपचार भी नहीं मिला है तो में इसे एक अच्छा कदम मानूँगा। बस मैं देखना चाहूँगा की सरकार इकॉनमी, बेरोजगारी, और गरीब लोगों की समस्याओ से कैसे निपटती है। खैर मेरी राय या बातों से आप आहात ना होईए तो अच्छा है . देखिये ANI UP की ट्विट-

क्या लिखा है ट्विट में -

Chief Minister has directed officers that no public gathering be allowed till 30th June. Further decision will be taken depending on the situation: Office of CM Yogi Adityanath #COVID19 – ANI UP

मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को निर्देशित किया है कि 30 जून तक किसी भी सार्वजनिक सभा की अनुमति नहीं दी जाए। स्थिति के आधार पर आगे निर्णय लिया जाएगा: सीएम योगी आदित्यनाथ का कार्यालय  #COVID19  – ANI UP

 

ANI UP : यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने समूहिक सभा करने पर 30th जून तक लगाई रोक

Leave a Reply